MENU
Breaking News
Breaking News Live T.V.

पूर्वांचल

चंदौली

पीएम मोदी के जन्मदिन अवसर पर आयोजित सेवा सप्ताह मे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 70वें जन्मदिन के अवसर पर आयोजित सेवा सप्ताह कार्यक्रम के तहत मंगलवार को विकासखंड धानपुर ब्लाक सभागार में जरूरतंदों को चश्मा का वितरण किया गया। 150 लोगों का पंजीकरण कर 135 को चश्मा वितरित किया गया। सैयदराजा विधायक सुशील सिंह ने कहा कोरोना संकट को देखते हुए कार्यक्रम सीमित है। एक सप्ताह तक चलने वाले सेवा सप्ताह का मुख्य उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा लोगों की कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए सेवा की जाए। इस अवसर पर बीडीओ सुशील मिश्र, सत्यवान मौर्य, हरीनाथ यादव, अजय सिंह, अरूण जयसवाल, सोनू तिवारी, अरविंद मिश्रा, राणा प्रताप सिंह, गुड्डू सिंह प्रधान, विमल सिंह, सर्वजीत सिंह मौजदू थे।

मिर्ज़ापुर

अमर शहीद रवि सिंह के घर सांत्वना देने विनीत सिंह

जिला पंचायत से अमर शहीद द्वार एवं स्मारक बनवाने की घोषणा

बारामुला में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हुए रवि सिंह के जिगना स्थित गौरा गांव परिजनों को सांत्वना देने पूर्व एमएलसी श्याम नारायण सिंह उर्फ विनीत सिंह पहुंचे। उन्होंने अमर शहीद रवि सिंह की शहादत को नमन किया। इस मौके पर उन्होंने जिला पंचायत की तरफ से अमर शहीद रवि सिंह के याद में मनकठा गौरा मार्ग पर अमर शहीद के नाम पर एक गेट तथा शहीद के अंत्येष्टि स्थल पर रामलीला मैदान में एक स्मारक भवन एवं मूर्ति लगवाने की घोषणा कि। इसके साथ ही मनकठा गौरा संपर्क मार्ग की टूटी सड़क को भी जिला पंचायत से मरम्मत करवाने की बात की।गौरतलब हो कि इस मौके पर उन्होंने जिला पंचायत के जेई को तुरंत प्राक्कलन बनाकर जल्द से जल्द उक्त कार्य को शुरू करवाने का निर्देश भी दिया ।साथ ही दोनों स्थानों पर लोगों के साथ जाकर स्थलीय निरीक्षण भी किया। पूर्व एमएलसी विनीत सिंह ने कहा कि अमर शहीद रवि सिंह जी के लिए जितना भी किया जाए कम है। उनकी शहादत पर पूरे देश पर गर्व है। इस मौके पर उनके साथ जिला पंचायत सदस्य वसीम अहमद जिला पंचायत सदस्य सुरेश बिंद संजय सिंह गहरवार आयुष सिंह आदि लोग भी उपस्थित थे।

 

जौनपुर

जैतपुरा दोहरे हत्याकांड के आरोपित विवेक सिंह 'कट्ट

वाराणसी जनपद के जैतपुरा थाना क्षेत्र में अधिवक्ता समेत दो लोगों की हत्या में फरार चल रहे आरोपित विवेक सिंह कट्टा ने सोमवार को जौनपुर के एससी/एसटी कोर्ट में एक पुराने मामले में समर्पण कर दिया। अदालत ने उसे न्यायिक अभिरक्षा में लेकर जेल भेज दिया। बतादें कि बीते 28 अगस्त को जैतपुरा थाना क्षेत्र के चौकाघाट स्थित काली मंदिर के समीप पूर्वाह्न में अज्ञात बाइक सवार बदमाशों ने हुकुलगंज निवासी अधिवक्ता अभिषेक सिंह 'प्रिंस' समेत दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। इस घटना में एक व्यक्ति भी गंभीर रूप से घायल हो गया था। इस मामले में पुलिस ने शिवपुर निवासी विवेक सिंह कट्टा समेत कई लोगों को आरोपित बनाया था। तभी से वह फरार चल रहा था। इस बीच पुलिस के बढ़ते दबाव को देखते हुए आरोपित विवेक सिंह ने जौनपुर जनपद के एक पुराने एससी/एसटी के मामले में पुलिस को चकमा देते हुए समर्पण कर जेल चला गया।

बतातें चलें कि मारपीट व आपराधिक गतिविधियों में संलिप्त होने के कारण लोहगाजर (जौनपुर) निवासी विवेक सिंह शिवपुर थाना क्षेत्र के लक्ष्मणपुर इलाके में किराये के मकान में रह रहा है। उसे यूपी कालेज से वर्ष 2007 में निष्कासित कर दिया गया था। इस दौरान विवेक सिंह के खिलाफ कई थानों में मुकदमा भी दर्ज हुआ।

इलाहाबाद

यूपी बार कौंसिल चेयरमैन के दिए गए बयान पर इलाहाबाद

इलाहाबाद मेरठ की दुरी ज्यादा है अगर मेरठ में नया बेंच खुलेगा तो आम जनता को फायदा होगा। हरिशंकर सिंह

एशिया के सबसे बड़े हाईकोर्ट, इलाहाबाद हाईकोर्ट में बेंच के बंटवारे को लेकर बीते कई सालों से विवाद चल रहा है।कभी चुनावी मौसम में राजनीतिक दलों द्वारा बेंच के बंटवारे की बात कही जाती है। तो कभी क्षेत्रीय अधिवक्ताओं द्वारा बांटने की मांग उठती रही है। वहीं एक बार फिर हाईकोर्ट के बेंच के बंटवारे की मांग के खिलाफ अधिवक्ता सड़क पर उतर आए हैं।

लंबे समय से पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हाई कोर्ट की बेंच बनाए जाने की मांग उठ रही है। जिसका विरोध इलाहाबाद उच्च न्यायालय के अधिवक्ताओं द्वारा किया जाता रहा है। अभी भी लगातार इलाहाबाद उच्च न्यायालय के अधिवक्ता इस बात पर अड़े हुए हैं कि इलाहाबाद उच्च न्यायालय कि अन्य और कोई बेंच नहीं बनाई जानी चाहिए। इस मुद्दे पर राजनीति भी खूब जम के होती है। मौजूदा यूपी बार काउंसिल अध्यक्ष हरिशंकर सिंह के दिए गए बयान पर इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्ता बार के अध्यक्ष के खिलाफ ही आवाज बुलंद कर रहे हैं।

गौरतलब है कि बीते दिनों एक बयान में यूपी बार के अध्यक्ष हरिशंकर सिंह ने पश्चिमी यूपी में बेंच बनाये जाने का समर्थन करते हुए बयान दिया कि कोर्ट की एक और बेंच होनी चाहिए। उनके इस बयान पर इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्ताओं ने भयंकर आक्रोश देखने को मिल रहा है। इलाहाबाद हाईकोर्ट के नाराज अधिवक्ताओं ने अध्यक्ष हरिशंकर सिंह के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया और उनका पुतला हाईकोर्ट के बाहर जलाया और मांग करते हुए कहा कि हरिशंकर सिंह अपने दिए गए बयान को वह वापस लें माफी मांगे।

बेंच बनाना राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री का क्षेत्राधिकार है ना कि यूपी बार कौंसिल का, मिडिया के पुछे गयें सवाल पर कहा बेंच खुलने से हमें कोई परेशानी नहीं

क्लाउन टाइम्स ने जब उत्तर प्रदेश बार कौंसिल के अध्यक्ष हरिशंकर सिंह से संपर्क किया तो उन्होंने कहा कि पिछले दिनों मैं मेरठ में वकीलों की अनुशासन समिति की सुनवाई करने के लिए गया था तो वहां पर मौजूद मीडिया द्वारा पूछे गए सवाल में कि उत्तर प्रदेश में नया बेंच खुल जाए तो आपको क्या परेशानी है। हमने कहा हमें कोई परेशानी नहीं है क्योंकि यह काम तो राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री के क्षेत्राधिकार का है ना कि उत्तर प्रदेश बार कौंसिल के चेयरमैन के क्षेत्राधिकार का। मिडिया ने कहा कि इलाहाबाद और मेरठ की दुरी बहुत है। तो मैंने कहा अच्छी तो बात है यहां नया बेंच खुल जायेगा तो आम जनता को सहायता मिलेगी। हमने तो आम जनता के हित की बात कहीं है। अगर कोई विरोध कर रहा है तो मैं क्या करूं।

अपना प्रदेश

देश/विदेश

खेल

आईपीएल के ऐसे बल्लेखबाज जिन्हों ने जड़े हैं रिकॉर्

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) इस बार 19 सितंबर से यूएई की सरजमीं पर शुरू होने को है। इंडियन प्रीमियर लीग का नाम सुनते ही दिलोदिमाग में एक मंजर सा बन जाता है जिसमें सिर्फ चौकों और छक्‍कों की बरसात देखने को मिलती है। सभी देशी और विदेशी बल्‍लेबाज, ऑलराउंडर खिलाडी अपनी छमता से बढकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन मैदान में करते हैं और दर्शकों को मनोरंजित करते हैं। लंबे-लंबे छक्‍कों और बेहतरीन प्रतिभा के इस खेल के महापर्व का सभी को इंतजार रहता है। हालांकि, दर्शक इस बार टीवी और स्मार्टफोन के जरिए ही बड़ी हिट्स का लुत्फ उठा पाएंगे, क्योंकि कोरोना वायरस महामारी की वजह से आइपीएल 2020 में कम से कम शुरुआत में दर्शकों को स्टेडियम आने की अनुमति नहीं है। कुछ ऐसे खिलाडी जो आइपीएल के 12 के इतिहास में सबसे ज्यादा छक्के जड़े हैं। इन 10 खिलाड़ियों ने मिलकर आइपीएल में 2017 छक्के ठोके हैं। अकेले वेस्टइंडीज के तूफानी बल्लेबाज क्रिस गेल 300 से ज्यादा छक्के आइपीएल में जड़ चुके हैं। इतना ही नहीं, वे आइपीएल के इतिहास में सबसे ज्यादा छक्के जड़ने वाले इकलौते बल्लेबाज हैं। क्रिस गेल ने अब तक खेले आइपीएल के 125 मैचों में 326 छक्के जड़े हैं। एक पारी में भी सबसे ज्यादा 17 छक्के लगाने का उनका रिकॉर्ड है। इंडियन प्रीमियर लीग में सबसे ज्यादा छक्के मारने वालों की इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर साउथ अफ्रीकाई दिग्गज बल्‍लेबाज एबी डिविलियर्स हैं, जिन्होंने 154 मैचों में 212 छक्के जड़े हैं। लिस्ट में तीसरा नंबर महेंद्र सिंह धोनी का आता है, जिन्होंने अब तक आइपीएल के इतिहास में 209 छक्के जड़े हैं। एमएस धौनी आइपीएल में सबसे पहले 200 छक्के पूरे करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी हैं, जबकि 200 या इससे ज्यादा छक्के उनके अलावा डिविलियर्स और क्रिस गेल ने जड़े हैं। सिक्‍सर किंग की लिस्‍ट में रोहित शर्मा, भारत के एमएस धोनी से ज्यादा पीछे नहीं हैं, लेकिन वे अभी तक 188 मैचों में 194 छक्के जड़ पाए हैं।

राजनीति

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के आगमन पर विरोध कर ज

हाथरस की बिटिया के न्याय की मांग के लिए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के वाराणसी आगमन पर विरोध करने वाले कांग्रेस कार्यकर्ताओं की जमानत अर्जी मंजूर होने के बावजूद भी ACM 3rd शिवांगी शुक्ला द्वारा जिलाधिकारी के निर्देश पर रिहाई ना देने के आदेश के विरूद्ध संघर्षरत वकील अनुज यादव, सेंट्रल बार के महामंत्री शैलेन्द्र सिंह बबलू, बार काउंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश के पूर्व अध्यक्ष एवं सदस्य हरिशंकर सिंह, अशोक सिंह, धीरेन्द्र शर्मा, भूपेंद्र सिंह, एडवोकेट विकास सिंह, पंकज उपाध्याय, अनूप सिंह, ओम शुक्ला सहित सभी संघर्षरत अधिवक्ता को कांग्रेस पार्टी द्वारा सोमवार को सम्मानित किया गया। सम्मानित करने वालो में प्रमुख रूप से ओमप्रकाश ओझा, मनीष मोर्लिया, आनंद सिंह, महानगर महासचिव मनीष चौबे, युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष विश्वनाथ कुंवर, महानगर अध्यक्ष मयंक चौबे, हरीश मिश्रा, किशन यादव, रोहित चौरसिया सहित तमाम कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

जुर्म

IPL क्रिकेट मैच में सट्टेबाजी करनें वालें दो आरोपि

अदालत में बचाव पक्ष की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता शशिकांत राय ऊर्फ चुन्ना राय, बिपीन शर्मा व शैलेन्द्र प्रताप सिंह सरदार ने पक्ष रखा। अपर जिला सत्र न्यायधीश दशम देवाशीष की अदालत ने घर में आईपीएल मैंच में सट्टेबाजी कराने के मामले मे ग्राम दीनापुर थाना सारनाथ निवासी आरोपित राजेन्द्र जायसवाल व आशीष गुप्ता निवासी हुकुलगंज थाना पांडेयपुर-लालपुर की अग्रिम जमानत मंजूर कर ली। अदालत ने आरोपितों द्वारा 25-25 हजार रुपए के दो बंदपत्र देने पर व निम्न शर्तों के अधीन रिहा करने का आदेश दिया। अदालत में बचाव पक्ष की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता शशिकांत राय ऊर्फ चुन्ना राय, बिपीन शर्मा व शैलेन्द्र प्रताप सिंह सरदार ने पक्ष रखते हुए कहा कि आरोपित निर्दोष हैं। उसके द्वारा कथित अपराध कारित नहीं किया गया है। कथित अपराध जमानती प्रकृति का है। घटना का कोई भी जन साक्षी नहीं है। उसके माकन में न तो पुलिस द्वारा छापा मारा गया और न तो किसी की गिरफ्तारी हुई है और न कोई बरामदगी हुई है। जो बरामदगी दिखाई गयी है उससे आवेदक का कोई संबंध व सरोकार नहीं है। अभियुक्त न तो सट्टा खेलता है और न ही खेलवाने का कार्य करता है। उसका राज कम्यूनिकेशन के नाम से पहाड़िया में मोबाइल की दुकान है जहाँ से मोबाइल की विक्री व रिचार्ज का कार्य होता है। न्यायालय ने अभियुक्त के अधिवक्ताओं की तर्को को सुनने के बाद आरोपीयो की अग्रिम जमानत पर रिहा करने का आदेश दिया। अभियोजन पक्ष प्रभारी निरीक्षक इंद्र भूषण यादव मय हमराहि के पंचकोसी चौराहे पर मामूर थें कि जरिए मुखबिर से सूचना मिलीं कि दीनापुर निवासी राजेन्द्र जायसवाल आईपीएल क्रिकेट पर अपने घर में हार जीत की बाजी लगाते हुए मोबाइल से सट्टा खेल व खेलवा रहें हैं। मुखबिर की सूचना पर पुलिस अधीक्षक से अनुमति प्राप्त कर दीनापुर स्तिथ राजेन्द्र जायसवाल के मकान पर एक बारगी मकान के अंदर प्रवेश किये तो कमरें के अंदर बैठे तीन व्यक्तिय दिखाई दिये जो पुलिस की आहट पाकर कमरें से निकल कर भागने लगे जिन्हें पकड़ने का प्रयास किया गया तो दो व्यक्ति मकान के पिछले दरवाजे से अंधेरे का फायदा उठा कर भागने में सफल रहे तथा एक व्यक्ति मौके से आवश्यक बल प्रयोग कर समय करीब 11:15 बजे कमरें के अंदर पकड़ लिया गया। पकड़े गये व्यक्ति ने अपना नाम अंकित जायसवाल बताया। तलाशी से बिस्तर पर 49950/ रूपये नकद व 13 अदद मोबाइल फोन, सात अदद रजिस्टर, दो अदद कलम, दो अदद कैल्कुलेटर मिले। रजिस्टर में आईपीएल सट्टे से संबंधित विवरण कोड भाषा में लिखा गया है। पकड़े गये व्यक्ति ने बताया कि हमलोग आईपीएल क्रिकेट मैच में पालीवार हार जीत, ओवरवार, विकेटवार, रनवार की बाजी सट्टा लगाकर जुआ खेलते व खेलाते है। मोबाइल फोन पर खेलने वालों के फोन आते हैं जिनको सुन कर हमलोग कापी में नोट कर देतें है। उसी हार जीत पर पैसे का लेन देन होता है। बरामद रूपयें सट्टे की बाजी लगाने वालों का है। कैल्कुलेटर से पैसों का हिसाब जोड़ा जाता है। भागे गयें व्यक्तियों का नाम राजेन्द्र जायसवाल ऊर्फ राज तथा आशीष गुप्ता बताया। यह भी बताया कि हमलोग मिलकर सट्टे बाजी का कार्य काफी दिनों से कर रहे हैं। इस काम में राजेन्द्र जायसवाल ऊर्फ राज मुख्य व्यक्ति हैं। अभियुक्त अंकित जायसवाल को हिरासत में लिया गया तथा बरामद सामान को सर्व मुहर कर नमूना मोहर तैयार किया गया तथा फर्द मौके पर लिखी गयी। फर्द बरामदगी के आधार पर दिनांक 29 सितंबर 2020 को समय 8 : 09 बजे संबंधित थाने पर अभियुक्तगण अंकित जायसवाल, राजेन्द्र जायसवाल तथा आशीष गुप्ता के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कराया गया।

मनोरंजन